शनिवार, 20 अगस्त 2011

बड़ी देर भई नंदलाला




जन्माष्टमी पर सभी ब्लोगर्स साथियों को बहुत सारी
शुभकामनाएं  
 
बड़ी देर भई नंदलाला
      बड़ी देर भई नंदलाला,कोंन है हमारा रखवाला रे
 आओ देखो नेताओं ने इस देश का क्या हाल कर डाला रे
    नेताओं की हो रही है चाँदी
    सारे देश की हो रही है बर्बादी
 हर तरफ फैल रहा है भ्रस्टाचार
  बढ़ रहा है चोरबाजारी,मक्कारी ,बलात्कार 
अब यहाँ गुंडों मवालिओं का बोलबाला रे 
बड़ी देर भई नंदलाला,कोंन है हमारा रखवाला रे
  इस आजादी के लिए वीरों ने अपनी जान दी
   अपने आन और शान की कुर्बानी दी
              आजादी और उनकी कुर्बानी हो गई ब्यर्थ                                     
कहीं कोई नहीं सुनवाई ना कोई सुननेवाला रे
         बड़ी देर भई नंदलाला, अब कोंन है हमारा रखवाला रे
                        द्वापर युग में आपने एक कंश को मारा था

                   
अर्जुन को भगवत-गीता का पाठ समझाया था
   अपनों द्वारा किये गए जुल्मों का अंत करना सिखाया था                       कलयुग के लाखों कंशों से अब कोंन है मुक्ति दिलानेवाला रे
 बड़ी देर भई नंदलाला,अब कोंन है हमारा रखवाला रे 
देश में  मची है हर तरफ हंगामा और त्राहि-त्राहि
    अन्ना हजारेजी ने इसके खिलाफ आवाज है उठाई 
    सारी जनशक्ति भी उनके समर्थन में सामने आई 
      पर सरकार ने सबकी आवाज दबानी चाहि 
    आओ अब तो तुम्हारा ही सहारा है मुरलीवाला रे
   अब देर ना करो नंदलाला,आकर बनो हमारे रखवाला रे


                       
                        HAPPY JANMAASTMI                          

19 टिप्‍पणियां:

Anupama Tripathi ने कहा…

जन्माष्टमी की शुभकामनायें ...प्रभु सबका भला करें...!!

sushmaa kumarri ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुती....जन्माष्टमी की शुभकामनायें

चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ ने कहा…

आपके इस सुन्दर प्रविष्टि की चर्चा दिनांक 22-08-2011 को सोमवासरीय चर्चा मंच पर भी होगी। सूचनार्थ

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" ने कहा…

aaj pahli baar aapke blog pe aana hua..is sarthak aaur samicheen pravisti ke liye hardik badhayee aur apne blog pe amantran ke sath

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" ने कहा…

shandaar..mere blog pe bhi aapka swagat hai

vidhya ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुती....जन्माष्टमी की शुभकामनायें

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

अच्छी प्रस्तुति ..

जन्माष्टमी की शुभकामनायें

ब्लॉ.ललित शर्मा ने कहा…

आज कुशल कूटनीतिज्ञ योगेश्वर श्री किसन जी का जन्मदिवस जन्माष्टमी है, किसन जी ने धर्म का साथ देकर कौरवों के कुशासन का अंत किया था। इतिहास गवाह है कि जब-जब कुशासन के प्रजा त्राहि त्राहि करती है तब कोई एक नेतृत्व उभरता है और अत्याचार से मुक्ति दिलाता है। आज इतिहास अपने को फ़िर दोहरा रहा है। एक और किसन (बाबु राव हजारे) भ्रष्ट्राचार के खात्मे के लिए कौरवों के विरुद्ध उठ खड़ा हुआ है। आम आदमी लोकपाल को नहीं जानता पर, भ्रष्ट्राचार शब्द से अच्छी तरह परिचित है, उसे भ्रष्ट्राचार से मुक्ति चाहिए।

आपको जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं एवं हार्दिक बधाई।

vandan gupta ने कहा…

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनायें।

कविता रावत ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुती.
जन्माष्टमी की शुभकामनाये .

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति....
जन्माष्टमी की सादर बधाईयाँ....

prerna argal ने कहा…

आपका बहुत बहुत धन्यवाद की आपको मेरी पोस्ट पसंद आई /आशा है आगे भी आपके उत्साह बढ़ानेवाले सन्देश मेरी रचनाओं को मिलता रहेगा /आभार /

वीना श्रीवास्तव ने कहा…

सुंदर रचना...
जन्माष्टमी की शुभकामनाएं....

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) ने कहा…

वर्तमान परिवेश में नंदलाला से की गई विनती जरूर रंग लायेगी,नयनाभिराम चित्रों के साथ प्रस्तुति ने आनंदित्कर दिया.

virendra ने कहा…

बहुत सुन्दर रचना , सार्थक सृजन , बधाई

Bharat Bhushan ने कहा…

नंदलाला के ज़रिए आपने वर्तमान व्यव्स्था की शिकायत दूर तक पहुँचा दी है. सुंदर रचना.

मदन शर्मा ने कहा…

बहुत सुन्दर , सशक्त सार्थक और खूबसूरत प्रस्तुति!!!!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

बहुत सुन्दर!
जन्माष्टमी, ईद और गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएँ!

amrendra "amar" ने कहा…

बहुत उम्दा पोस्ट के लिए बधाई .